दोस्ती ना सही,दुश्मनी निभाने के लिए आ

waiting-for-love
दोस्ती ना सही,दुश्मनी निभाने के लिए आ,
मेरी नहीं,अपनी चाहत मिटाने के लिए आ,

जाना चाहो महेफिल से तो रोकेंगे नहीं अब,
तू चराग जलाने नहीं तो बुझाने के लिए आ,

सितमगर हो अपनी तासीर पे अमल करना,
सितम ढाने नहीं,फितरत दिखाने के लिए आ,

ख्वाब ही मांगे है हमारी तन्हाई ने रातो में,
फूलो पे ना सही,कांटो पे सुलाने के लिए आ,

जनाजे कि वो लाश से मुहब्बत नहीं,ना सही,
रोने को नही पर रवायत निभाने के लिए आ !!!!

नीशीत जोशी 26.12.13

तेरे शहर की गलियां, वीरान रहती है

october_reflection_original_oil_on_canvas_painting_by_leonidafremov-d60arky
तेरे शहर की गलियां, वीरान रहती है,
तेरी हाफिझा में, वो भी आहें भरती है,

छोड़ गये हो राहे सफ़र में, तन्हा जबसे,
काहीदगी से आँखे, इंतिझार करती है,

बेकल कर जाता है, हवा का हर झोका,
चौंक जाता हूँ, जो आहटे हँसती है,

बागो में फूल भी, अब लगे है मुरझाने,
टूटकर कलियाँ भी, देखो दम भरती है,

रहम करो, इस दिल की धड़कन पे अब,
ये नफ़स, वस्ल-ए-जानां में ही बसती है !!!

नीशीत जोशी 24.12.13

કદાચ

saughi_1
આજ સાકીએ તો મયખાનું કર્યું છે આમ કદાચ,
પીવડાવી મયના પ્યાલા કર્યું છે નામ કદાચ,

મંદિર જવા નીકળે પણ પહોંચે છે મયખાને,
સાકીના દર્શને પૂરું થાય ભક્તોનું કામ કદાચ,

લોકો ડરતા હોય છે સમાજના બધા કહેણોથી,
સાકીને જોઈ પીને લથડશે આખું ગામ કદાચ,

કોઈને ગમમાં, કોઈને ખુશીમાં પીવા જોઈએ,
સાકી ભરી પીવડાવે પ્રેમ પ્યાલે જામ કદાચ,

એમ તો પીને કોઈ લથડ્યું નહતું આજ સુધી,
આંખોની શરાબથી બનશે નસીલો જામ કદાચ.
નીશીત જોશી 23.12.13

दिल

love-heart-wallpaper_422_92677
उस दिल को कोई,बेपायां सताता रहा,
वो दिल उसी को, प्यार में मनाता रहा,

देखा, अज़ीब सा हौसला उस दिल का,
कोई तोड़ते रहा, वो प्यार जताता रहा,

इज्तिहाद भी न की किसी से बचने कि,
खुद क़त्ल हुआ और खुद बताता रहा,

मुहब्बत को तिजारत समजनेवालोने,
किसीने बेचा,वो खुद को सजाता रहा,

नाशाद था दिल हिज्र के दर्द से,मगर,
रोना आते हुए भी वो खुद हसाता रहा !

नीशीत जोशी 21.12.13

આજ હર વાત પર હસી રહ્યા છે તેઓ

smiling_girl3
કોના કોના હૃદયે વસી રહ્યા છે તેઓ,
કોના સાટું આમ તરસી રહ્યા છે તેઓ,

છુપાવતા લાગે છે કોઈ વ્યથાને જરૂર,
આજ હર વાત પર હસી રહ્યા છે તેઓ,

મજબૂરી છે કે ગમતું નથી સાથે બેસવું,
ધીમે રહી બાજુએથી ખસી રહ્યા છે તેઓ,

આવવાનો તો હતો જ પ્રેમ માં વિયોગ,
તો શાને અશ્રુ બની વરસી રહ્યા છે તેઓ,

હૃદયની ઉર્મીઓ રહી નથી હવે વસમાં,
અને લાગણીઓમાં લપસી રહ્યા છે તેઓ.

નીશીત જોશી 19.12.13

प्यार में तो यही अंजाम होता है

KONICA MINOLTA DIGITAL CAMERA
प्यार में तो यही अंजाम होता है,
नाम से ज्यादा बदनाम होता है,

वो दिल हो जाता है मायूस, अगर,
राज़ जो खुल के सरेआम होता है,

मदहोश रहते है महेफिल में अक्सर,
तसव्वुर में सिर्फ चश्मे-जाम होता है,

गुफ़तगू करते रहते है ख्वाब में,मगर,
सामने शर्म से चहेरा गुलफाम होता है,

हैरान तो तब हो जाते है आशिक,जब,
हर जुबाँ पे मासुक खुलेआम होता है !!!!

नीशीत जोशी 17.12.13

तू चाहे तो

H
तू चाहे तो हसरत तेरी पूरी करले,
तू चाहे तो उम्रभर कि दूरी करले,

आना होगा मुड़कर वापिस पास मेरे,
तू चाहे कितनी भी दुश्वारी करले,

तेरे सिवा किसीकी नहीं चाहत मेरी,
ले के इम्तिहान तू मुराद पूरी करले,

मुन्तज़िर रहेंगे सभी चाहनेवाले तेरे,
तू चाहे तो महफ़िल से दूरी करले,

उफ़ भी नहीं कहेगा अब ये दिल मेरा,
तू चाहे अब मुराद-ए-हिज्र पूरी करले !!!!

नीशीत जोशी 14.12.13